Watsapp Status Attitude

Attitude Watsapp Status

  • “”I don’t insult people , I just describe them””
  • People say me bad…..trust me i am the worst.
  • My Attitude is my born gift and nobody take from me.
  • Me…..myself…and I..!!
  • My heart is stolen…can I check your bra…….
  • Two fundamentals of cool life – Walk like you are the king OR walk like you don’t care ,who is the king.
  • I m sorry did i give u d impression that i give a damn abt u???
  • I am single because God is busy writing the best love story for me…
  • Hey I found your nose, it was in my business again.
  • Don’t Copy My Style.
  • I don’t need to explain myself, I know I’m right.
  • Someone Asked me what is UR attitude…… then i simply replied… ” BEING SINGLE IS MY ATTITUDE…”
  • I don’t have time to hate people,who hate me.because, I’m too busy in loving people who love me.
  • Be a girl with a mind, a bitch with an attitude, and a lady with class.
  • It’s the good girls who keep diaries;the bad girls never have the time.

u can also go through this link fr more attitude status..attitude watsapp status

ATTITUDE STATUS FOR WHATSAPP IN HINDI

  1.  खुद ही दे जाओगे तो बेहतर है..!वरना हम दिल चुरा भी लेते हैं..!
  2. मेरे बारे में इतना मत सोचना ,दिल में आता हूँ , समज में नही ।
  3. तुम जिन्दगी में आ तो गये हो मगर ख्याल रखना,हम ‘जान’ दे देते हैं मगर ‘जाने’ नहीं देते !!
  4. मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे,अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती ।
  5. वो खुद पर गरूर करते है, तो इसमें हैरत की कोई बात नहीं,जिन्हें हम चाहते है, वो आम हो ही नहीं सकते !!
  6. तुम खुश-किश्मत हो जो हम तुमको चाहते है वरना,हम तो वो है जिनके ख्वाबों मे भी लोग इजाजत लेकर आते है..!!
  7. मेने बी बादल diye apne जिंदगी कश्मीर usul,अब जो याद करेगा वो याद rahega .. !!
  8. सोने के जेवर ओर हमारे तेवरलोगो को अक्सर बहोत मेंहगे पडते हे।
  9. इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ऐ बेखबर,शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं .. !!
  10. चलो bikharne देते है ज़िंदगी KoSambhaalne की भी EK hadd होती हैं करने के लिए।
  11. मैंने समुन्दर से सीखा है जीने का सलीका,चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना …।!
  12. माँ ने कहा था कभी किसीका दिल मत तोडना,,इसलिए हमने दिल को छोड के बाक़ी सब तोड़ा !!
  13. हमारी गोली जान नही लेती बोस,,दुसरो के अन्दर जानवर जगा देती हे ।
  14. क्या करे बुरी आदत हे हमारी ,,नर्क के दरवाजे के सामने खड़े होकर पाप करते हे !!
  15. आहिरों का बस यही अंदाज हे ,जब आते हे तो गरमी अपने आप बढ़ जाती हे ।
  16. कुत्ते भोंकते हे अपना वजूद बनाये रखने के लिये ,,और लोगो की खामोशी हमारी मौजूदगी बया करती हे ।।
  17. माना की तेरी एक आवाज से भीड हो जाती हे ,,.…..लेकिन हम भी आहिर हे ,,हमारी एक ललकार से पूरी भीड़ बिखर जाती हे ।।
  18. तेवर तो हम वक्त आने पे दिखायेंगे ,,शहेर तुम खरीदलो उस पर हुकुमत हम  चलायेंगे…!!!
  19. बादशाह नहीं बाजीगर से पहचानते है लोग ,,“……क्यूकी…….” हम रानियो के सामने झुका नहीं करते….!!
  20. शेर खुद अपनी ताकत  से राजा केहलाता है;जंगल मे चुनाव नही होते.. ।।
  21. में बंदूक और गिटारदोनों चलाना जानता हूं ।
  22. तय तुम्हे करना हे कीआप कौन सी धुन पर नाचोगे..।।
  23. राज तो हमारा हर जगह पे है…।पसंद करने वालों के “दिल” में ; और नापसंद करने वालों के “दिमाग” में…।।
  24. रियासते तो आती जाती रहती हे,मगर बादशाही करना तो..आज भी लोग हमसे सीखते हे ।
  25. खेल ताश का हो या जिंदगी का ,अपना इक्का तब ही दिखाना जब सामने बादशाह हो ।
  26. तुम गरदन जुकाने की बात करते हो ,हम वौ है जो आंख उठाने वालो की गरदन प्रसाद मै बाट देते है..।।
  27. शायरी का बादशाह हुं और कलम मेरी रानी,अल्फाज़ मेरे गुलाम है, बाकी रब की महेरबानी ।
  28. हथियार तो सिर्फ सोंख के लिए रखा करते हे ,खौफ के लिए तो बस नाम ही काफी हे ।
  29. अकल कितनी भी तेज ह़ो नसीब के बिना नही जित सकती ,बिरबल काफी अकलमंद होने के बावजूद.. कभी बादशाह नही बन सका ।
  30. पसंन्द आया तो दिल में ,नही तो दिमाग में भी नही ।
  31. जिंदगीमें बडी शिद्दत से निभाओ अपना किरदार, कि परदा गिरने के बाद भी तालीयाँ बजती रहे….।।
  32. हम आज भी शतरंज़ का खेल अकेले ही खेलते हे ,क्युकी दोस्तों के खिलाफ चाल चलना हमे आता नही ..।
  33. मेरे लफ्जों से न कर मेरे किरदार का फेसला ,तेरा वजूद मिट जाएगा मेरी हकिगत ढूंढते ढूंढते !
  34. तू मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे…अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती ।
  35. जी भर गया है तो बता दोहमें इनकार पसंद है इंतजार नहीं…!
  36. मुझको पढ़ पाना हर किसी के लिए मुमकिन नहीं,मै वो किताब हूँ जिसमे शब्दों की जगह जज्बात लिखे है….!!
  37. मेरी फितरत में नहीं अपना गम बयां करना ,अगर तेरे वजूद का हिस्सा हूँ तो महसूस कर तकलीफ मेरी..।।
  38. इतना भी गुमान न कर आपनी जीत पर ” ऐ बेखबर ”शहर में तेरे जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं।….।।
  39. मुझमे खामीया बहुत सी होगी मगर, एक खूबी भी है… मे कीसी से रीश्ता मतलब के लीये नही रखता.

जीत हासिल करनी हो तो काबिलियत बढाओ,किस्मत की रोटी तो कुत्तेको भी नसीब होती है.!